ATM क्या है ? What is ATM In Hindi | ATM कितने प्रकार के होते हैं |

 ATM क्या है ? What is ATM In Hindi | ATM के प्रकार (Types of ATM) ATM कैसे काम करता है| ATM से पैसे कैसे निकालें |

ATM kya hai in hindi
ATM kya hai in hindi

हेल्लो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में मै आपको एटीएम कार्ड से सम्बंधित जरुरी सवाल जवाब जैसे एटीएम क्या है ? (What is ATM in Hindi), एटीएम कितने प्रकार के होते हैं ? (Types of ATM Card), ATM Kya Hai, ATM Full Form | इन सभी सवालो के जवाबो को आप सभी के सामने रखूँगा | 

क्युकी दोस्तों आज भी हमारे आस पास ऐसे बहुत से लोग होते हैं जिन्हें एटीएम कार्ड के बारे में बिल्कुल भी पता नहीं होता है की ATM Kya hai , ATM Full Form, Types of ATM Card, ATM के कार्य , एटीएम कैसे काम करता है आदि तो आज मै आपको अपने इस आर्टिकल से आप को एटीएम से सम्बंधित इन सभी सवालों के जवाब देने वाला हु | 

दोस्तों कभी कभी तो हममे से ही कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्हें यह तो पता होता है की एटीएम क्या है (what is atm in hindi) , ATM Full Form, एटीएम से पैसे कैसे निकालें , बनता भी हो तो उन्हें यह नहीं पता होता है की एटीएम आख़िरकार काम कैसे करता है ? 

आज के समय सभी लोग एटीएम का उपयोग पैसे निकालने के लिए करते हैं दोस्तों एक समय होता था जब लोगों को बैंक से पैसे निकालने के लिए 8-8  घंटे तक लाइनों में खड़ा रहना पड़ता था लेकिन जब से एटीएम का चलन हुआ है यह समस्या काफी हद तक खत्म हो गई है|

 दिन हो या रात एटीएम मशीन से आप कभी भी किसी भी समय पैसे निकाल सकते हैं एटीएम मशीन ने  हम सभी के मुश्किल कामों को बहुत ही आसान कर दिया है, तो चलिए दोस्तों जानते हैं कि एटीएम क्या है ? (What is ATM in Hindi), एटीएम से पैसे कैसे निकालते हैं ? एटीएम कितने प्रकार के होते हैं?  (Types of ATM), एटीएम का फुल फॉर्म क्या है ? आदि|

एटीएम फुल फॉर्म (ATM Full Form) : 

ATM का फुल फॉर्म होता है “Automated Teller Machine” | जिसको हिंदी में “स्वचालित टेलर मशीन” कह सकते हैं| 

एटीएम क्या है ? (What is ATM) : 

ATM (Automated Teller Machine) एक स्वचालित इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो कि हमें बेसिक फाइनेंसियल सर्विसेज एक्सेस करने की अनुमति देता है| यह एक ऑटोमेटिक मशीन है जोकि हम कस्टमर को विभिन्न प्रकार की बैंकिंग ट्रांजैक्शन करने की सर्विस देता है|

 एटीएम कस्टमर्स को 24×7 सर्विस देने के लिए स्थापित किए गए होते हैं यह बहुत सी जगहों में आपको देखने को मिल सकते हैं जैसे कि बैंक की शाखाओं में, शॉपिंग मॉल्स में, एयरपोर्ट्स में और अन्य पब्लिक प्लेसेस में जहां पर पब्लिक की संख्या बहुत ज्यादा है और साथ ही एटीएम से जुड़ी उनकी मांग भी|

एटीएम का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है और इससे हमारे समय की भी बचत होती है इसी कारण से समय के साथ-साथ एटीएम कस्टमर्स के लिए बहुत ही लोकप्रिय बन गया है और बैंक में लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होकर पैसे निकालने की वजह हर कोई आज एटीएम से पैसे निकालना सही समझता है|

 बस इसके लिए आप अपने एटीएम कार्ड से जुड़ी कुछ सामान्य जानकारियां एटीएम मशीन में दर्ज करके 1 मिनट के अंदर ही अपने पैसे को आसानी से निकाल सकते हैं इस कारण से आज के समय में एटीएम मशीन दुनिया के सामने बैंकिंग के क्षेत्र में एक बहुत ही लोकप्रिय इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बन चुकी है|

इन्हें भी देखें :

IP Address क्या है ? 

एटीएम का अविष्कार : 

दोस्तों अब यदि बात करें कि एटीएम का आविष्कार किसने किया ? ATM का आविष्कार Don Wetzel ने किया था|

 आपको बता दें कि डॉन वेट जेल, De La Rue कंपनी में एक कर्मचारी के रूप में कार्य करते थे जिन्होंने एटीएम का आविष्कार 1960 में किया था|

डॉन वेट जेल ने एटीएम की उपयोगिता और उसकी महत्वता के बारे में सोच कर इसके विकास और अविष्कार के लिए काफी मेहनती थी तब कहीं जाकर एटीएम का आविष्कार आज मॉडर्न बैंकिंग के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्तंभ बन चुका है जिसे हर कोई उपयोग में लाना पसंद करता है|

Don Wetzel का महत्वपूर्ण योगदान : 

दोस्तों कहां जाता है कि डॉन वेट जेल यूनाइटेड स्टेट के pennshylvania शहर के रहने वाले थे उन्हें पैसा निकालने के लिए हमेशा बैंक की लंबी-लंबी लाइने देखकर परेशानी होती थी और वह सोचते थे कि क्या कोई ऐसा तरीका नहीं है जिससे खाते में पैसे जमा करना हो या रुपए निकालने के लिए लंबे समय तक लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने की जरूरत ना पड़े| 

इसीलिए तब कहीं जाकर डॉन वेट जेल ने गहरे शोध और अध्ययन के बाद एटीएम का आविष्कार किया जिसे आज पूरी दुनिया जानती है|


Termux से हैकिंग कैसे करे ?

एटीएम किस प्रकार से नेटवर्क पर कार्य करता है ?

ATM (Automated Teller Machine) एक कंप्यूटराइज्ड डिवाइस है जोकि बैंक के सर्वर के साथ नेटवर्क में कनेक्ट रहता है| 

एटीएम एक सिक्योर कनेक्शन के द्वारा बैंक के कंप्यूटर सिस्टम से जुड़े रहते हैं और जब कोई ग्राहक एटीएम का उपयोग करता है और डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड एटीएम मशीन में इंसर्ट करता है तो तब एटीएम मशीन खुद ही बैंक के कंप्यूटर सिस्टम से कनेक्ट हो जाती है और कार्डहोल्डर यानी कि ग्राहक को उसका एटीएम पिन इंटर करने के लिए बोलती है|

 जब ग्राहक अपना सही-सही ATM pin इंटर करता है तो एटीएम मशीन बैंक के कंप्यूटर सिस्टम से कार्ड होल्डर के खाते के संबंध में जानकारी लेती है और जानकारी सुनिश्चित होने के बाद वह कार्ड होल्डर के लिए एटीएम स्क्रीन पर तरह-तरह की बैंकिंग सेवाओं को दिखाती है जैसे कि पैसे निकालना पैसे जमा करना बैलेंस की जांच एक खाते से दूसरे खाते में पैसे ट्रांसफर करना आदि| 

इन सभी सेवाओं में से कार्ड होल्डर जिस भी सेवा का लाभ उठाना चाहता है वह उसके बगल में दिखाई गई बटन को प्रेस करता है और इस प्रकार से कार्ड होल्डर द्वारा दिया गया कमांड एटीएम मशीन से बैंक के कंप्यूटर सिस्टम तक जाता है जिससे खाते में सभी ट्रांजैक्शन एग्जीक्यूट हो सके| 

कार्ड होल्डर द्वारा पैसे निकालने या फिर जमा करने के बाद एटीएम मशीन खुद ही कार्ड होल्डर के खाते को अपडेट करती है और ट्रांजैक्शन का रिकॉर्ड बैंक के सिस्टम में स्टोर कर देती है|

 इसी कारण से यदि आपने कहीं भी एटीएम का उपयोग किया होगा तो आपको पता होगा कि जब आप एटीएम से पैसे निकालते हैं तो पैसे निकालने के बाद एटीएम आपको एक पर्ची (रशीद) देती है जो कि आपको आपके द्वारा पैसे निकालने से संबंधित सभी अपडेटेड जानकारी देती है|

एटीएम कितने प्रकार के होते हैं ?

चलिए दोस्तों अब मैं आपको यह बताता हूं की अपने–अपने विशेष कार्य और जरूरतों के अनुसार भारत में एटीएम मुख्यतः कितने प्रकार के हैं| 

भारत में एटीएम मुख्यतः 6 प्रकार के हैं :

1) VISA Debit Card : 

2) VISA Electron Debit Card :

3) MasterCard Debit Card : 

4) RuPay Debit Card : 

5) Contactless Debit Card : 

6) Maestro Debit Card : 

VISA Debit Card : 

विजा डेबिट कार्ड एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट कार्ड होता है जोकि कार्ड होल्डर के बैंक अकाउंट से कनेक्ट होता है| यह डेबिट कार्ड ग्राहकों को ऑनलाइन शॉपिंग करने ,बैंक से पैसे निकालने ,रिटेल स्टोर में शॉपिंग करने और भी कई अन्य व्यापारी कारोबारो के लिए उपयोग में लाया जाता है|

 इससे आप ATM या POS मशीन पर स्वाइप करके और उससे पेमेंट करके भी शॉपिंग कर सकते हैं| 

आपको बता दें कि वीजा डेबिट कार्ड ,वीजा के द्वारा प्रदान किया जाता है|विजा डेबिट कार्ड प्राप्त करने के लिए ग्राहक के पास अपना एक पर्सनल बैंक अकाउंट जरूर होना चाहिए|

VISA Electron Debit Card : 

वीजा  इलेक्ट्रॉन डेबिट कार्ड भी एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट कार्ड ही होता है जोकि ग्राहक के बैंक अकाउंट से कनेक्ट होता है इसका उपयोग भी आप वीजा डेबिट कार्ड की तरह ही ऑनलाइन शॉपिंग करने, रिटेल स्टोर में शॉपिंग करने, पैसों को बैंक से निकलने या अन्य व्यापारिक कारोबार के लिए उपयोग में ला सकते हैं| 

इससे भी आप ATM या POS मशीन पर स्वाइप करके शॉपिंग कर सकते हैं|

काफी हद तक विजा डेबिट कार्ड, वीजा इलेक्ट्रॉन डेबिट कार्ड के समान ही है लेकिन कुछ कामों में विजा डेबिट कार्ड विजा इलेक्ट्रॉन डेबिट कार्ड से अलग भी है|

वह यह है कि विजा डेबिट कार्ड में एक क्रेडिट ऑप्शन होता है इससे कार्ड होल्डर क्रेडिट के रूप में पेमेंट कर सकते हैं लेकिन वीजा इलेक्ट्रॉन डेबिट कार्ड में यह ऑप्शन अवेलेबल नहीं होता है| 

विजा डेबिट कार्ड में ग्राहकों को मिनिमम बैलेंस मेंटेन करना पड़ता है जबकि वीजा इलेक्ट्रॉन डेबिट कार्ड में ऐसा कुछ भी नहीं होता है| 

MasterCard Debit Card : 

ऊपर के दोनों डेबिट कार्ड की तरह ही मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड भी एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट कार्ड होता है जोकि मास्टरकार्ड के द्वारा प्रदान किया जाता है इसका उपयोग भी आप ऑनलाइन शॉपिंग करने, रिटेल स्टोर में शॉपिंग करने बैंक से पैसों को निकालने और अन्य व्यापारी कारोबारियों के लिए आप इसे उपयोग में ला सकते हैं| 

मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड से भी आप एटीएम या पीओएस मशीन में स्वाइप करके शॉपिंग कर सकते हैं मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड बहुत ही सिक्योर और प्रभावी पेमेंट ऑप्शन है और साथ ही इसका उपयोग बहुत ही सरल और आसान होता है|

मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड के माध्यम से कार्ड होल्डर अपने बैंक अकाउंट की जानकारी प्राप्त कर सकता है और साथ ही अकाउंट की ट्रांजैक्शन की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं यह कार्ड आजकल बहुत ही ज्यादा यूज होने वाला डेबिट कार्ड है|

मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड में सबसे बड़ी खासियत यह है कि मास्टरकार्ड डेबिट कार्ड ग्राहकों को हर समय कुछ न कुछ अलग अलग लॉयल्टी प्रोग्राम और नई नई फायदेमंद योजनाएं भी ऑफर करता रहता है|

RuPay Debit Card : 

कार्ड भारत द्वारा प्रदान किया जाने वाला एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट कार्ड है जोकि नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) के द्वारा बनाया गया है|

रुपे डेबिट कार्ड की खास बात यह है कि इसका मुख्य उद्देश्य भारत की अर्थव्यवस्था को डिजिटल बनाने का है इसलिए इस कार्ड की फीस अन्य इंटरनेशनल पेमेंट कार्ड के मुकाबले बहुत ही कम है|

रुपे डेबिट कार्ड इंटरनेशनल डेबिट कार्ड के मुकाबले बहुत सस्ता होता है इसीलिए आम आदमी के लिए भी यह बहुत ही ज्यादा उपयोगी है|

 अन्य डेबिट कार्ड की तरह ही रुपे डेबिट कार्ड का भी इस्तेमाल आप ऑनलाइन शॉपिंग करने, बैंक से पैसे निकालने और ATM या POS से पेमेंट करने आदि के लिए कर सकते हैं|

रुपे डेबिट कार्ड ग्राहकों को कुछ अलग अलग इंडियन रिवार्ड और लॉयल्टी प्रोग्राम्स प्रदान करता है जो अन्य इंटरनेशनल डेबिट कार्ड के साथ नहीं होते हैं|

Contactless Debit Card : 

कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड एक ऐसा पेमेंट कार्ड होता है जो कि बिना पिन के इस्तेमाल किया जा सकता है| 

इस कार्ड को इस्तेमाल करने के लिए आपको सिर्फ अपने डेबिट कार्ड को कार्ड रीडर के पास ले जाना होता है और आपका ट्रांजैक्शन खुद-ब-खुद पूरा हो जाता है| 

कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने से आपको पिन को याद रखने की जरूरत नहीं होती है और ट्रांजैक्शन का समय भी कम होता है| 

 इस कार्ड में एक NFC (Near Field Communication) चिप होता है जिसे कार्ड रीडर के पास रखने से ट्रांजैक्शन का पूरा प्रोसेस अपने आप कंप्लीट हो जाता है|

कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड आजकल बहुत ही ज्यादा प्रचलन में है और लगभग सभी बैंक्स भी अपने कस्टमर्स को कॉन्टैक्टलेस डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने के लिए ऑफर करते हैं क्योंकि यह आपकी जिंदगी को बहुत ही आसान और सुविधाजनक बना देता है|

Maestro Debit Card : 

मेस्ट्रो डेबिट कार्ड एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट कार्ड होता है जिसे मास्टरकार्ड द्वारा प्राप्त किया जाता है इसका इस्तेमाल भी आप बाकी अन्य डेबिट कार्ड की तरह ही ऑनलाइन शॉपिंग करने ATM या POS से स्वाइप करके पेमेंट करने के लिए कर सकते हैं|

 मेस्ट्रो डेबिट कार्ड लगभग सभी बैंकों द्वारा issue किया जाता है|

मेस्ट्रो डेबिट कार्ड की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसका उपयोग आप इंटरनेशनल पेमेंट या ट्रांजैक्शन करने के लिए भी कर सकते हैं|

आप एक देश से दूसरे देश में ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने के लिए मेस्ट्रो डेबिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं और यह कार्ड लगभग सभी देशों में एक्सेप्ट किया जाता है|

 मेस्ट्रो डेबिट कार्ड के द्वारा किए गए ट्रांजैक्शन बहुत ही ज्यादा सुरक्षित होते हैं और यह कार्ड लगभग सभी बैंकों द्वारा सपोर्ट किया जाता है इसीलिए इसे प्राप्त करना बहुत ही ज्यादा आसान है|

एटीएम के कार्य  : 

एटीएम का मुख्य कार्य बैंक के कस्टमर को पैसे निकालने और जमा करने की सुविधा प्रदान करना है|

एटीएम में Cash Withdrawal, balance inquiry, mini statement और फंड ट्रांसफर जैसे कई प्रकार के काम किए जा सकते हैं इसके अलावा एटीएम की मदद से कस्टमर्स ऑनलाइन शॉपिंग और बिल पेमेंट जैसे कई प्रकार के ट्रांजैक्शन कर सकते हैं|

एटीएम द्वारा किए गए ट्रांजैक्शन आपके बैंक अकाउंट से जुड़े होते हैं जिससे आपको पैसे निकालने या जमा करने के लिए बैंक ब्रांच में जाकर लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने की जरूरत नहीं पड़ती है|

एटीएम में कैश विथड्रावल और डिपाजिट करना बहुत ही ज्यादा आसान है इसके लिए आपको सिर्फ कुछ ही सेकंड की जरूरत होती है|

एटीएम की मदद से banks और financial institution अपने कस्टमर को आसानी से कई प्रकार की सुविधा प्रदान कर सकते हैं|

कुल मिलाकर एटीएम आजकल बहुत ज्यादा प्रचलित हो गया है और लगभग सभी बैंक्स और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस इसका जमकर उपयोग कर रहे हैं|

ATM के फायदे : 

एटीएम का उपयोग करने के बहुत सारे फायदे हैं उनमें से कुछ प्रमुख फायदे हैं जो कि आप नीचे देख सकते हैं : 

  • Anytime, Anywhere Acess : ATM आपको 24×7 सुविधा प्रदान करता है एटीएम के होते हुए आपको पैसे निकालने के लिए बैंक में जाकर लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने की जरूरत नहीं पड़ती है एटीएम आपको किसी भी समय पैसे निकालने और जमा करने की सुविधा प्रदान करता है|
  • Cash Withdrawal : ATM का मुख्य काम है पैसे निकालना जिसकी मदद से आप किसी भी समय अपने डेबिट कार्ड का उपयोग करके एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं| 
  • Fund Transfer : एटीएम की मदद से आप कम से कम समय में बिना ज्यादा समय बर्बाद किए फंड ट्रांसफर कर सकते हैं जिसके लिए आपको बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं पड़ती है|
  • Balance inquiry : ATM का उपयोग करके आप अपने अकाउंट में कितना बैलेंस है यह चेक कर सकते हैं इसके लिए आपको बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं पड़ती है|
  • Online Shopping : एटीएम का उपयोग करके आप किसी भी समय कहीं से भी ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं साथ ही आप एटीएम या पीओएस से स्वाइप करके भी ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं|
  • Bill Payment : एटीएम की मदद से आप ऑनलाइन बिल पेमेंट भी कर सकते हैं जिसके लिए आपको कुछ आसान स्टेप्स ही फॉलो करने होते हैं| 
  • Safe and Secure : बेशक एटीएम की सुविधा बहुत ही सुरक्षित है क्योंकि इसमें आपको किसी भी तरह की ट्रांजैक्शन करने के लिए आपके 4 अंकों की atm pin की जरूरत होती है जो कि केवल आपको ही पता होता है|
  • Easy to Use : एटीएम का यूज़ करना बहुत ही ज्यादा आसान है, इसके लिए बस सबसे पहले आपको अपने एटीएम का पिन जनरेट करना होता है उसके बाद आप अपने एटीएम का उपयोग किसी भी ट्रांजैक्शन के लिए कर सकते हैं|

Conclusion : 

दोस्तों अब तो आपको पता चल ही गया होगा की एटीएम क्या है (What is ATM) एटीएम कार्ड कितने प्रकार के होते हैं (Types of ATM Card), एटीएम के फायदे, एटीएम के कार्य, ATM Full Form, ATM का अविष्कार किसने किया ?  आदि |

Leave a Comment