omicron in india | क्या भारत में फिर से लगेगा लॉकडाउन|

OMICRON IN INDIA : क्या भारत में फिर से लगेगा लॉकडाउन 



हाल ही में भारत के कुछ नजदीकी देशों में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन ने दस्तक दे दी है, और जनता केवल एक ही सवाल पूछ रही है कि क्या फिर से लगेगा लॉकडउन? क्या यह भी कोरोना की तरह पूरी दुनिया में फिर से हड़कंप मचाएगा|

क्या है ये ओमिक्रॉन

यह ओमिक्रोन corona  का एक नया वैरियंट है| वैरीअंट यानी वैरायटी कहलाती है| मतलब कि कहा जाए तो कुल मिलाकर यह corona की एक नई पीढ़ी है|बता दिया जाए कि यह ओमिक्रोन भारत में भी आ चुका है|

कहां कहां फैल चुका है ये ओमिक्रोन 

 परिणाम स्वरूप इसके 4 मरीज भारत में पाए जा चुके हैं|24 नवंबर को ओमिक्रोन का पहला केस पाए जाने की पुष्टि हो चुकी है| भारत में 4 और दुनिया में तकरीबन 400 केस पाए जा चुके हैं|दुनिया के कई देशों में इस वैरीअंट का असर पड़ चुका है और अब यह  भारत में भी आने की आशंका बनाए हुए हैं बता दिया जाए की वैज्ञानिकों के अनुसार कुल 38 देश में अभी तक इसे देखा जा चुका है|

ओमिक्रोन से संक्रमित पहला देश दक्षिण अफ्रीका है| जहा ओमिक्रोन से संक्रमित पहला मरीज पाया गया था|जहा अब तक 183 लोग इस वैरियंट से संक्रमित हो चुके हैं|इसके बाद बोत्सवाना में 19 केस पाए जा चुके है|ब्रिटेन में 32 तथा नीदरलैंड में 19 केस पाए जाने की पुष्टि हो चुकी है|

भारत में कहां तक फैल चुका ओमिक्रोन :

भारत में भी यह वैरीअंट कई क्षेत्रों में फैल चुका है भारत में अब तक इससे संक्रमित 4 मरीज पाए जा चुके है| कर्नाटक में 2 केस पाए जाने के बाद एक केस गुजरात और दूसरा मुंबई में पाया गया था गुजरात में संक्रमित व्यक्ति हाल ही में जिंबाब्वे से भारत आया था और वह इस वेरिएंट का शिकार हो गया जबकि मुंबई में मिला मरीज कैपटाउन से मुंबई लौट रहा था| इसीलिए भारत सरकार द्वारा राज्यीय और राष्ट्रीय यात्राएं करने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है|हो सके तो आप भी लंबी लंबी यात्राएं करने से बचें|आपकी सुरक्षा आपके हाथ में है|

क्या भारत में फिर से लगेगा लॉकडाउन :

आपको बता दें की भारत में जोरो शोरों से लंबी राष्ट्रीय और राज्यीय यात्राओं पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है| वैक्सीन का काम भी बहुत तेजी से चल रहा है| भारत में एक ट्रैवल एडवाइजरी पहले ही जारी कर दी गई है |एयरपोर्ट्स पर भी स्क्रीनिंग और टेस्टिंग की सुरक्षा बढ़ा दी गई है| कई राज्यों ने दूसरे देशों से आने वाले यात्रियों को कोरंटीन में रखने का फैसला भी कर लिया है| अब यह वायरस को रोकने में कितना ज्यादा असरदार साबित होता है यह आने वाले दिनों में स्पष्ट हो जाएगा|तब तक के लिए आप भी अपने घरों में रहकर सरकार, देश और खुद की सुरक्षा अपने आप कर सकते हैं| हो सके तो लंबी यात्राएं ज्यादातर ना करें|अगर सरकार और जनता द्वारा ऐसी ही सावधानियां continues जारी रहे तो ठीक, वरना सरकार को देश में लॉकडाउन लगाने के अलावा और कोई रास्ता नही बचेगा|

क्या कोरोना की तीसरी लहर लायेगा ओमीक्रोन

जिस तरह से कोरोना का नया वैरीअंट पूरी दुनिया में और देश में भी फैल रहा है उसके हिसाब से देखा जाए तो जनता को और सावधानियां बरतने की जरूरत है| सरकार द्वारा देश में टीकाकरण लगाना जारी है| बता दे कि देश में ओमीक्रोन की रिसर्च अभी तक पूरी नहीं हुई है सभी स्पेशलिस्ट इसका सॉल्यूशन निकालने में लगे हुए हैं| रिसर्च पूरी ना होने के कारण अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है| यदि हालात कोरोना की तरह हुए तो भारत में फिर से  तीसरी लहर भी आ सकती है और भारत में फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है|राहत की बात यह है कि देश में अभी भी टीकाकरण की गति तेज बनी हुई है जिसके कारण ओमीक्रोन को काफी हद तक मात दी जा सकती है|बाकी प्रोसेस और सुरक्षा जारी है|


क्या क्या सावधानियां बरतनी होगी

▪️ इसकी सावधानियां corona की तरह ही काफी हद तक same ही रहने वाली है|

▪️ अगर अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है तो वैक्सीन जरूर लगाएं और दोनों डोज लगवाएं क्युकी आंकड़ों के मुताबिक देखा गया है की जिन्होंने वैक्सीन की दोनो डोज लगवाएं है उनमें ओमीक्रोन के लक्षण नही देखे गए है|तो वैक्सीन जरूर लगवाएं|

▪️ शारीरिक क्षमता बढ़ाने के लिए हो सके तो हरी सब्जी और फल फूल जरूर खाएं|

▪️ अपनी सेहत का जरूर ध्यान रखें क्युकी एक छोटी सी खांसी, जुकाम भी इसके लक्षण बन सकते हैं|

▪️ लंबी यात्राएं करने से बचे| हो सके तो अभी ज्यादा लंबी यात्राएं न करें| इससे संक्रमण के खतरे बहुत जल्दी बढ़ते है, इसीलिए घर पर रहे ,स्वस्थ रहे|

▪️ संक्रमित क्षेत्र से थोड़ी दूरी बनाए रखें|

▪️ नियमित तौर पर 15 से 20 मिनट एक्सरसाइज करें|

▪️ यदि आप ऑफिस और कार्यालय में कार्यरत है तो अपने ऑफिस के सभी सदस्यों के बारे में जानकारी ले लें की कोई सदस्य ओमिक्रोन के संक्रमित क्षेत्र से तो नहीं, और यदि है तो उसकी हेल्थ पर एक नजर जरूर डालें ताकि पता चल सके आपका सहपाठी कही ओमीक्रोन से संक्रमित तो नहीं|

बस इन सभी बातो पर सावधानी बरतें, और वैसे भी यदि सरकार और हम सब अपने अपने नियमों का पालन इसी तरह बड़ी सहजता से करेंगे तो इस नए वैरियंट के फैलने के चांसेज बहुत कम हो जायेगे| 





Leave a Comment