ज्यादा सिम रखने वालों का बंद कर दिया जाएगा कनेक्शन | केंद्र सरकार का आदेश |

 ज्यादा SIM कार्ड रखने वालों के लिए सरकार ने बदल दिया नियम : देखे क्या है नियम |

sim card , jyada sim card rakhne par connection kar diye jayege band
ज्यादा सिम रखने कनेक्शन होंगे बंद|






हाल ही में एक रिपोर्ट के अनुसार केंद्र सरकार द्वारा DOT ( Department of telecommunication ) ने एक आदेश जारी किया है| इस आदेश में कहा गया है कि जिन लोगों के पास 9 से ज्यादा सिम कार्ड हैं उनके फोन के कनेक्शन बंद कर दिए जाएंगे या फिर से करना होगा उनका वेरिफिकेशन|

DOT का आदेश :

डॉट का आदेश है कि जिन लोगो के पास 9 से ज्यादा सिम कार्ड है उन सभी को फिर से उन सिमों को वेरीफाई कराना पड़ेगा|जम्मू कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट में सिम कार्ड की लिमिट 6 की गई है इसका मतलब वहां रहने वाले लोगों को 6 सिम कार्ड ही वेरीफाई कराए जाएंगे|


कैसे करे वेरीफाई :

केंद्र सरकार की तरफ से जारी आदेश के अनुसार जिस कस्टमर के पास अनुमति से अधिक सिम कार्ड हैं उन्हें अपनी मर्जी का सिम चालू रखने का विकल्प दिया जाएगा| सभी मोबाइल कनेक्शन को री वेरिफिकेशन कराने के लिए फ्लैग किया जायेगा | यूजर्स को नंबर चुनने के लिए विकल्प दिया जाएगा| नंबर की पुष्टि करने के बाद बाकी नंबर पर आउटगोइंग सेवाएं और डाटा सुविधाएं 30 दिनों के अंदर बंद कर दी जाएगी|


ऐसा नही करने पर क्या होगा :

ऐसा नही करने पर किसी एक सिम को छोड़कर उन सभी सिमों को डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा| सिम यूजर्स इन सभी सिमों को वेरीफाई करेंगे और वेरीफाई नहीं होने पर एक सिम को छोड़कर सभी सिमों को डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा|ज्यादा सिम पाए जाने पर ग्राहक की सिमों को फ्लैग किया जायेगा|फ्लैग किए गए नंबर का री वेरिफिकेशन नहीं कराने पर उसकी आउटगोइंग सुविधा को 5 दिनों के भीतर निलंबित कर दिया जाएगा और इनकमिंग सुविधा को 10 दिनों के भीतर निष्क्रिय कर दिया जाएगा यदि सिम का वेरिफिकेशन नहीं कराया जाता है तो 60 दिनों के भीतर पूरी सिम को ही बंद कर दिया जाएगा|


आखिर क्यों उठाया गया ऐसा कदम :

केंद्र सरकार ने यह कदम वित्तीय अपराधों, आपत्तिजनक कॉल ,स्वचालित कॉल ,अजीब कॉल ,ऑटोमेटिक कॉल और धोखाधड़ी गतिविधियों जैसी घटनाओं को देखकर यह कदम उठाया है|क्योंकि अधिकतर देखा गया है की कई बार यह ग्राहक द्वारा दूसरे ग्राहक को फोन पर धोखाधड़ी या दंगे बाजी जैसी चर्चाएं की जाती है और उसके बाद उस सिम को तोड़ कर फेंक दिया जाता है और दूसरे दिन उसी ग्राहक द्वारा बिना किसी झिझक के नई सिम खरीद लिया जाता है|


निष्कर्ष :

यदि आपके नाम पर भी 9 या 9 से ज्यादा मोबाइल कनेक्शन चालू हैं तो जल्दी से उनका वेरिफिकेशन करा लें|


Leave a Comment